Elon Musk Biography in Hindi – एलोन मस्क की जीवनी

Elon Musk Biography in Hindi

Elon Musk Biography in Hindi: कथाकारों से बचपन में सुना था, विद्यालय में शिक्षक महोदय ने भी बताया था और तो और जीवन की ठोकरों ने साबित किया की “कोशिश करने वालों की हार नही होती”। परन्तु इन पंक्तियों को सही साबित करने के लिए एक सही इंसान की तलाश थी।

नज़र दौड़ाया  तो इतिहास की किताबे अजूबों से भरपूर मिली।मेरी खोज का पैमाना ये नही था की सफलता की जांच पड़ताल बैंक में रखे रुपयों से हो बल्कि कौन भविष्य की परिकल्पनाओं को साकार करने में अपनी पूंजी खर्च कर रहा है ये सबसे जरुरी था।

आखिरकार ऐसा शख्स मिल ही गया,वो इंसान था“एलोन रीव मस्क” पेशे से इंजिनियर, अविष्कारक, इन्वेस्टर और दिग्गज व्यापारी एलोन रीव मस्क। इस इंसान की जितनी तारीफ़ की जाए कम है। हर सफल इंसान की एक अपनी कहानी होती है और एक अपना जीवन होता है ,एलोन मस्क का भी जीवन संघर्ष और चुनौतियों से परिपूर्ण था।

Elon Musk Biography in Hindi

एलोन मस्क का बच्चपन और उनकी शिक्षा-दीक्षा (Elon Musk Biography in Hindi)

एलोन मस्क का जन्म दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में 28 जून 1971 को हुआ। उनके पिता ,एरोल मस्क, पेशे से एक इलेक्ट्रिकल इंजिनियर थे और माता ‘मेई मस्क’एक आहार विशेषज्ञ थी। इनका एक भाई और एक बहन है।

जन्म से एलोन अफ्रीकी हैं परन्तु इनके पास कनाडाई, और अमेरिकी नागरिगता भी है। इनके पिता अफ्रीकी तो माता अमेरिकी-कनाडाई थी। मस्क बचपन से ही एकदम शांत स्वभाव के थे। यही कारण था की लोग उन्हें परेशान करते और उनकी आलोचना करते।

अपने शर्मीले स्वभाव की वजह से मस्क को बचपन में बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। एलोन जब 10 साल के थे तो इनके पिता का तलाक हो गया। एलोन अपने पिता के साथ ही रह कर अपनी पढ़ाई पूरी करने लगे।

कुछ समय  के पश्चात इनके पिता ने दूसरी शादी कर ली। वो अब  एलोन को वक्त नही दे पा रहे थे ,इसलिए एलोन ने उनसे अलग रहने का फैसला किया। वो कनाडा में अपनी माँ के एक रिश्तेदार के यहाँ चले गए।

वहाँ जाकर वो आगे की पढ़ाई करने लगे । कनाडा की नागरिकता मिलने के पश्चात एलोन ने यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेन्सिल्वेनिया से फिजिक्स में BA किया। इसके बाद व्हार्टन स्कूल ऑफ़ बिज़नेस से BE की डिग्री हासिल की।

“एलोन मस्क एक अविष्कारक” – (Elon Musk Biography in Hindi)

एलोन मस्क को बचपन से ही किताबें पढने का बड़ा शौक था। 12 वर्ष की उम्र तक उन्होंने इतनी किताबें पढ़ ली थी की कोई ग्रेजुएशन करने वाला भी उतना नही पढ़ता होगा। एलोन की कंप्यूटर में बड़ी रुचि थी।

किताबें पढ़-पढ़ उन्होंने कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सीखी। कोडिंग सीखने के बाद उन्होंने अपना पहला गेम बनाया जिसका नाम था “ब्लास्टर”। अपनी बुद्धिमता के दम पर उन्होंने इस गेम को 500$ में बेच दिया था। आप अंदाजा लगा सकते है की मस्क बचपन से कितने कुशाग्र बुद्धि के थे।

एलोन का जीवन 1995 के बाद तब बदला जब उन्होंने पीएचडी के लिए अमेरिका जाने का फैसला किया। वहाँ उन्होंने स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया। एडमिशन के कुछ दिन बाद ही एलोन को इन्टरनेट का ज्ञान हो गया।

स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी को छोड़ अपने भाई के साथ मिलकर एक ZIP2 नामक कंपनी बनाई। उस वक़्त कंपनी में एलोन की हिस्सेदारी सिर्फ 7 प्रतिशत थी। बाद में इस सॉफ्टवेर को कॉम्पैक ने खरीद लिया जिसके लिए एलोन को २२ मिलियन अमेरिकी डॉलर मिले।

एलोन यही नही रुके 1999 में उन्होंने X.com नामक कंपनी बनाई जो पैसों के लेनदेन का कारोबार करती थी। उस वक़्त एक प्रतिद्वंदी कंपनी कांफिनिटी भी यही काम किया करती थी।

बाद में दोनों कंपनियों का विलय हो गया और नई कंपनी “PayPal” के नाम से बनी। PayPal के बोर्ड मेंबर और एलोन मस्क की ज्यादा बनती नही थी ,इसलिए उन्होंने PayPal को बेचने का मन बना लिया। एक अमेरिकी कंपनी  Ebay ने PayPal को खरीद लिया जिसके बदले एलोन को 165 मिलियन US डॉलर मिलें।

Space-X का निर्माण – (Biography of Elon Musk In Hindi )

एलोन एक बात तो समझ गए थे ,की अगर कुछ बड़ा करना है तो दुनियाँ की सोच से अलग हट कर सोचना होगा। कुछ बड़ा करने की चाह लिए वो रूस गए जहाँ वो 3 ICBM राकेट लेना चाहते थे। प्रत्येक राकेट की  कीमत 8 मिलियन डॉलर थी।

एलोन मस्क को ये बात खटकी की इतना बड़ी राशि दी जाए इससे अच्छा क्यों न खुद का राकेट बनाया जाए। एलोन वापस आकर खोजबीन में लग गए। कई सारे राकेट साइंस की किताबें पढ़ने के बाद एलोन ने आखिरकार SPACE-X कंपनी बनाई।

एलोन ने अथक मेहनत के बाद आखिरकार राकेट बना ही डाला परन्तु दुर्भाग्यवस उनका राकेट उड़ने से पहले ही ब्लास्ट हो गया। एलोन निराश हो गए परन्तु उन्होंने हार नही मानी। उनके पास बहुत कम पैसे बचे थे।

उन्होंने बलास्ट हुए राकेट से ठीक पुर्जे निकाल कर दुबारा राकेट बनाया परन्तु इस बार भी परिणाम वही था वो। अब न तो उनके पास इतने पैसे थे की वो दुबारा राकेट बना पाए और न कही से उधार मिलने की उम्मीद नज़र आ रही थी।

हिम्मत जुटा कर एलोन ने अपना घर, अपनी गाड़ियाँ और अपनी कंपनी की हिस्सेदारियाँ गिरवी रखी। एलोन जानते थे की अगर इस बार वो असफल हुए तो उनके पास कुछ नही बचेगा, परन्तु एलोन ने अपनी असफलता को पीछे रख कार्य जारी रखा।

परिणाम स्वरुप एलोन इस बार सफल हो गए। पूरी दुनियाँ की नज़र एलोन के स्पेस-x पर आ कर रुक गई। एक जटिल और महंगी अंतरिक्ष लॉचिंग को स्पेस-x के रीयूजेबल राकेट ने सस्ता और आसन बना दिया। एलोन रातों रातों अरबपति बन गए। आज उनके राकेट का इस्तेमाल     ‘नासा’ भी करता है। रीयूजेबल राकेट की तकनीक एकदम नई और क्रांतिकारी है।

इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला का निर्माण – एलोन एक दूरदर्शी व्यक्ति है ,उन्हें मालूम था की एक दिन पेट्रोल और डीजल का दौर खत्म  हो जाएगा। इसी सोच को ध्यान में रखकर एलोन ने टेस्ला का निर्माण किया जो पुरे विश्व में अपनी इलेक्ट्रिक कारों के लिए जानी जाती है।

बकौल एलोन “पेट्रोल ,और डीजल से चलने वाली कारें पुरानी हो जाएँगी ,आने वाला युग पूर्ण रूप से “इलेक्ट्रिक कारों का होगा”। आज टेस्ला सेल्फ ड्राइविंग कार की तकनीक पर कार्य कर रही है। टेस्ला की कारें आने वाली वक़्त में पूर्ण रूप से आटोमेटिक तकनीक पर कार्य करेंगी।

टेस्ला और सोलर सिटी का विलय- एलोन मस्क ने 2006 में अपने चचेरे भाई की सोलर कंपनी में इन्वेस्ट किया और बहुत जल्द ही इसे अमेरिका की दूसरी  सबसे बड़ी सोलर कंपनी बना दिया। साल 2003 में टेस्ला और सोलर सिटी का विलय हो गया। आज टेस्ला कई शहरों में सोलर बस्तियाँ बसा रही है। यह कदम  भविष्य की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए बेहद जरूरी है।

एलोन मस्क की अन्य कम्पनियां बोरिंग,स्टारिंग लिंक और नयूरोलिंक का उदय – (Elon Musk Biography in Hindi)

एलोन मस्क एक सामाजिक कार्यकर्ता भी है ,सिर्फ पैसे कमाना उनका मकसद नही है,यही वजह है की उन्होंने विभिन्न भविष्य की चुनौतियों से निपटने के लिए विभिन्न तकनीकी कम्पनियां बनाई हैं। बोरिंग कारपोरेशन का निर्माण उन्होंने यातायात के तेज साधन विकसित करने के लिए बनाया हैं।

आज बोरिंग अंडर-ग्राउंड टनल बना रही है जो हाईपर-लूप (ध्वनि से भी तेज) चलने वाले यातायात के साधन विकसित कर रही है। स्टारलिंक का निर्माण विश्व के कोने कोने तक सस्ती इन्टरनेट सेवा प्रदान करने के लिए बनाया गया है वही नयूरोलिंक का निर्माण इंसानी दिमाग को कंप्यूटर से जोड़ Artificial Intelligence का इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया हैं।

एलोन मानते है की आने वाले वक्त में कंप्यूटर इस दुनियाँ पर राज करेंगे इसलिए उन्होंने नयूरोलिंक का निर्माण इंसानी बुद्धिमता को और क्षमता को बढ़ाने के लिए किया हैं।

एलोन मस्क का पारिवारिक जीवन – (Elon Musk in Hindi)

एलन मस्क ने सन 2000  में जस्टिन बिल्सोन से शादी रचाई जिससे उनके 5 बच्चें हुए, आतंरिक मतभेदों की वजह से 2008  में जस्टिन और एलोन का तलाक हो गया।

उसके बाद उन्होंने 2010 में तालुला रियाल से शादी की, लेकिन यह शादी भी ज्यादा दिन तक नहीं चली और 2012 में उनका तलाक हो गया।आपको हैरानी होगी की 2013 में एलन मस्क ने तीसरी शादी एक बार फिर से तालुला रियाल से की और उनका 2016 में फिर से तलाक हो गया।

एलोन की आय और भविष्य की योजनायें – एलोन एक क्रांतिकारी सोच वाले व्यक्ति है। अपनी कंपनियों से मुनाफा कमाना उनका   एकमात्र मसकद नही है। वो मानते हैं की किसी की सफलता का आकलन उसके बैंक बैलेंस से नही बल्कि उसके किये गए रचनात्मक कार्यो से किया जाना चाहिए। एलोन भविष्य की योजनाओं को लेकर अति उत्साहित है।

वो मंगलग्रह पर मानव बस्तियाँ बसाने चाहते है।वो चाहते है की धरती के अलावा चाँद और मंगल पर एयरबेस हो जहाँ से हवाई जहाज उड़ान भर सकें। अपनी रचनात्मक प्रतिभा के  दम पर वो आज विश्व के सबसे अमीर आदमियों की सूचि में पहले पायदान पर है। वो अपनी सारी पूंजी का उपयोग ,भविष्य की अन्तरिक्ष योजनाओं पर खर्च करना चाहते है। आज वो 4 से ज्यादा कंपनियों के सीईओ है।

आप पढ़ रहे थे Elon Musk Biography in Hindi.

ये भी पढ़ें:

Ratan Rata Biography in Hindi – रतन टाटा जीवनी
Cristiano Ronaldo Biography in Hindi – जीवन परिचय

अपनों के साथ जरूर साझा करें:

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram
Share on pinterest
Pinterest
Share on tumblr
Tumblr
Share on email
Email
Hindi DNA

Hindi DNA

हिन्दी डीएनए आपकी ज्ञान को बढ़ाने के लिए है।

All Posts

हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें

Scroll to Top