Virat Kohli Biography in Hindi – विराट कोहली का सफर!

Virat Kohli Biography in Hindi

Virat Kohli Biography In Hindi: अंग्रेजी काल से शुरू हुए क्रिकेट ने कई महान खिलाड़ियों को जन्म दिया। फिर वो चाहे गैर्री सोबर्ष हो ,डेनिस लिली हो विवियन रिचर्ड्स हो या फिर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर। अगर हम इंडियन क्रिकेट की बात करें तो यें कपिल देव से शुरू होकर मौजूदा कप्तान विराट कोहली पर आकर रुकता है।

सर्वश्रेष्ठ कप्तानो की सूची में सौरव गांगुली ,महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली न नाम शीर्ष पर आता है। आज हम जिस खिलाड़ी की बात करने जा रहे है वो न केवल मौजूदा इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान है बल्कि नई पीड़ी के क्रिकेट के सिरमौर है।

जी हाँ हम बात कर रहे है भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली की। आज विराट इंडियन क्रिकेट के वो स्तभं है जो न केवल मजबूती से खड़ा है बल्कि नई पीड़ी के क्रिकेट को एक नई उंचाई दे रहा है। ऐसे में यें जानना दिलचस्प होगा की विराट ने अपना सफ़र कैसे शुरू किया? और कैसे यहाँ तक पहुँचे?

Virat Kohli Biography in Hindi

विराट का जीवन परिचय

विराट कोहली का जन्म 5 नवम्बर 1988 को दिल्ली के एक पंजाबी परिवार में हुआ था। इनके पिता प्रेम कोहली पेशे से एक क्रिमिनल लॉयर थे और माता घर गृहणी है। इनके परिवार में एक भाई और एक बहन है।

विराट का बचपन से ही क्रिकेट के प्रति गहरी रूचि थी। इनके पिता इनकी पसंद और नापसंद को समझते थे। इनके पिता ने मात्र 3 साल की उम्र में इन्हें पहला क्रिकेट बल्ला गिफ्ट किया था।

पिता विराट की रूचि और उसके उत्साह को समझते थे इसलिए रोज़ प्रातःकालीन अभ्यास हेतु उन्हें मैदान में ले जाते थे। विराट के पिताजी जी इनके लिए प्रथम गुरु थे। खेल में संयम, हार न मानना और गिरकर दुबारा उठने का गुण विराट को अपने पिता से विरासत में मिले। 2006 में पिता का देहांत होने के पश्चात विराट एकदम अकेले हो गए परन्तु इन्होने खेलना नही छोड़ा।

विराट की शिक्षा- दीक्षा (Virat Kohli Biography In Hindi)

कोहली की आरंभिक शिक्षा दिल्ली के विशाल भारती स्कूल से  हुई। विराट की क्रिकेट में रूचि को देखकर इनके पिताजी ने मात्र 9 वर्ष की उम्र में ही विराट का क्रिकेट अकादमी में दाखिला करा दिया था ताकि वो अपनी प्रतिभा को और निखार सके।

विराट ने स्कूल स्तर पर काफी अभ्यास किया परन्तु उन्हें कुछ खास फायदा न हुआ। तब जाकर इनकी मुलाकात दिल्ली क्रिकेट अकादमी के क्रिकेट कोच राज कुमार शर्मा से हुई जिन्होंने ने विराट के खेल को निखारने में बहुत ही महतवपूर्ण भूमिका अदा की। यही से विराट ने क्रिकेट की बारीकियाँ सीखी और पहली बार सुमित डोंगरा क्रिकेट अकादमी की और से अपना पहला मैच खेला।

विराट का प्रारंभिक क्रिकेट करियर (Virat Kohli Biography in Hindi)

विराट एक मिडिल आर्डर बैट्समैन के साथ साथ एक राईट आर्म बोलर भी है। साल 2002 में विराट ने अपना पहला अंडर 15 मैच खेला,साल 2004 में इनका चयन अंडर 17 के लिए हो गया। दिनप्रति दिन खेल में निखार की वजह से 2008 में इनका चयन अंडर-19 में हो गया।

अंडर-19 विश्व कप मलेशिया में हुआ इसमें भारत को जीत मिली। इस टूर्नामेंट में विराट का प्रदर्शन लाजवाब था। यहाँ से इनके करियर ने एक नया मोड़ लिया। चयनकर्ताओं ने उनका चयन भारत के लिए वनडे क्रिकेट में कर लिया।

मात्र 19 साल की उम्र ने उन्होंने अपना पहला वनडे मैच श्रीलंका के खिलाफ खेला। बाद में इन्हें 2011 का वर्ल्ड कप, 2011 में ही टेस्ट मैच खेलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ जिससे इन्होने बड़े अच्छे तरीके से भुनाया।

साल 2014 में दो बार, 2016 में दो बार इन्होने “मैन ऑफ द मैच” का खिताफ भी अपने नाम किया। 2014 से 2017 का समय इनके लिए बहुत लकी साबित हुआ। इन्होने इस दौरान भारत को अपने प्रदर्शन के दम पर कई बार जीत दिलाई।

विराट की जिंदगी तब बदली जब धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया। तब उन्होंने कोहली को कप्तानी सौपीं। वनडे में कोहली ने सबसे तेज 5000 रन बनाए और रिकॉर्ड भी बनाया। विराट पहले ऐसे बल्लेबाज है जिन्होंने 4 सालों में 1000 या उससे ज्यादा रन बनाए है।

बाईस साल की उम्र में वो तीसरे ऐसे बल्लेबाज बनें जिसने 2 वनडे मैचों में 100 रन बनायें। साल 2015 में सबसे तेज टी-20 में उन्होंने 1000 का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया।

विराट खेल के प्रति कितने जुनूनी थे इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की जब 2006 में इनके पिता की मृत्यु ब्रेन स्ट्रोक से हुई वो कर्नाटक में रणजी खेल रहे थे। उन्होंने मैच बीच में नही छोड़ा और खेलते रहे। मैच पुरा करने के पश्चात ही वो अपने घर दिल्ली के लिए रवाना हुए।

विराट कोहली के रिकॉर्ड – विराट ने विभिन्न मैचों में कई रिकॉर्ड अपने नाम किए है जिसे छु पाना किसी के लिए इतना आसन नही होगा :-

  • वनडे में सबसे तेज 7500 बनाने वाले पहले खिलाड़ी
  • साल 2011 के वर्ल्ड कप में सेंचुरी बनाई
  • महज 22 साल की उम्र में 100 रन बनाने वाले तीसरे भारतीय खिलाड़ी
  • ODI क्रिकेट में सबसे कम समय में 1000, 3000, 4000,5000 रन बनाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बनें।

विराट को मिलें अवार्ड्स-

अपनी मेहनत, लगन और कठिन परिश्रम के दम पर विराट ने वो मुकाम हासिल किया जिसे बहुत कम लोग ही हासिल कर पाते है। उन्होंने बहुत सारे अवार्ड अपने नाम कियें जो निम्न है:-

  • 2012 में वो ICC प्लेयर ऑफ थे ईयर अवार्ड से से नवाजे गए
  • 2013 में इन्हें अर्जुन अवार्ड मिला
  • 2017 में CNN IBN क्रिकेटर ऑफ थे ईयर का अवार्ड मिला
  • 2017 में इन्हें पद्मश्री मिला

विराट की नेटवर्थ और इनका नीजी जीवन (Biography of Virat Kohli in Hindi)

टाइम मैगजिन के अनुसार विराट सालाना 20-22 करोड़ रुपये सिर्फ क्रिकेट से कमाते है। ब्रांड Endorsing से इनकी इनकम करोड़ो में है।

इनकी कुल आय 35 मिलियन डॉलर के आसपास है। विराट ने 2017 में हिंदी फिल्मों की जानी मानी एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा से विवाह कर लिया। विराट और अनुष्का की एक बेटी भी है जिसका जन्म कुछ माह पूर्व ही हुआ है।

विराट अपनी कमाई का कुछ हिस्सा लोक कल्याण और ट्रस्ट को भी दान करते है। विराट खाने के बड़े शौक़ीन है । विराट का दिल्ली में एक अपना रेस्टोरेंट भी है। विराट के दोस्त उन्हें “रन मशीन” और “चीकू” के नाम से बुलाते है।

आप पढ़ रहे थे Virat Kohli Biography in Hindi

ये भी पढ़ें:

Ratan Rata Biography in Hindi – रतन टाटा जीवनी
Cristiano Ronaldo Biography in Hindi – जीवन परिचय

अपनों के साथ जरूर साझा करें:

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram
Share on pinterest
Pinterest
Share on tumblr
Tumblr
Share on email
Email
Hindi DNA

Hindi DNA

हिन्दी डीएनए आपकी ज्ञान को बढ़ाने के लिए है।

All Posts

हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें

Scroll to Top