Cristiano Ronaldo Biography in Hindi – जीवन परिचय

Cristiano Ronaldo Biography in Hindi

Cristiano Ronaldo Biography in Hindi: किसी ने क्या खूब कहा हैं “की मत कर अपने पंखों पे गुरूर, अधूरे सपनों में भी जान होती है, महज उड़ नही सकते पंखो के सहारे की हौसलों से उड़ान होती है” 

आज हम जिस शख्सियत की बात करने जा रहे हैं उन्होंने अपने हौसलों की बदौलत जिंदगी में वह मुकाम हासिल किया जिसका लोग पूरी उम्र सिर्फ सपना ही देखते रह जाते हैं। जी हाँ आज की वह महान शख्शियत है क्रिस्टीयानो रोनाल्डो, बेहद ही गरीब परिवार में जन्में रोनाल्डो ने मेहनत के दम पर न सिर्फ अपनी तकदीर बदली बल्कि करोड़ों युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत भी बने।

Cristiano Ronaldo Biography in Hindi – रोनाल्डों का जीवन परिचय

क्रिस्टियानों रोनाल्डो का जन्म 5 फरवरी 1985 को फनचल, मदिरा पुर्तगाल में हुआ। इनका पूरा नाम क्रिस्टीयानों रोनाल्डो दोस सैंटोस अवेइरो है। इनके पिता का नाम  जोस डीनिस अवीयरो है और इनकी माता का नाम मारिया डालोरोस डॉस है। रोनाल्डो के पिता नगर निगम में एक मामूली माली की नौकरी किया करते थे। रोनाल्डो के अलावा इनके परिवार में इनका एक भाई और दो बहनें है। रोनाल्डो अपने परिवार में सबसे छोटे थे, इसलिए वो घर में सबके दुलारे थे।

रोनाल्डों की शिक्षा – Cristiano Ronaldo Childhood & Education

रोनाल्डों ने कोई भी परम्परागत शिक्षा हासिल नही की है।बचपन से फुटबॉल के प्रति इनकी दीवानगी ने इनका मन पढाई में कभी लगने ही नही दिया। एक घटना के अनुसार जब ये मात्र 14 वर्ष के थे तब इन्होने ने अपने टीचर पर कुर्सी फ़ेक दिया था जिसके दंडस्वरूप उन्हें स्कूल से निकाल दिया गया था। इस कृत्य से पिताजी बड़े दुखी थे क्योकि एक मामूली माली होते हुए भी वो रोनाल्डो को पढ़ा लिखा कर बड़ा आदमी बनाना चाहते थे,परन्तु नियति को कुछ और ही मंजूर था। रोनाल्डों का बचपन से ही फुटबॉल में करियर बनाने का इरादा था। इस सपने को पूरा करने में उनकी माँ ने बहुत योगदान  योगदान दिया। जब उन्होंने स्कूल छोड़ा उनकी माँ ही थी जिन्होंने उनके इस फैसलें का बचाव किया।

रोनाल्डों का का विवादपूर्ण जीवन और कुछ नीजी जानकारियां Cristiano Ronaldo Biography in Hindi

एक इंटरव्यू के दौरान रोनाल्डों ने अपने जीवन की कुछ नीजी जानकारियां साँझा की जो न तो किसी मैगजिन में उपलब्ध थी और न ही इन्टरनेट पर। उन्होंने बताया की किस प्रकार उनके पिता ने उनका नाम अमेरिका के राष्ट्रपति ‘रोनाल्ड रीगन’ के नाम पर रोनाल्डों रखा।

असल में रोनाल्डो के पिता उन्हें एक महान शख्सियत बनते देखना चाहते थे। एक बेहद ही गरीब परिवार में पैदा हुए रोनाल्डों के घर में सिर्फ एक कमरा था जिसे उन्हें अपने भाई बहनों के साथ शेयर करना पड़ता था।

रोनाल्डों के पिता को नशे की लत थी जिसे पूरा करने के लिए वो अपनी पूरी सैलरी खर्च कर दिया करते थे,इसी वजह से उनके परिवार को तंगी से होकर गुजरना पड़ता था। जब उनकी माँ चौथे संतान के वक्त गर्भवती थी उस वक़्त डॉक्टर ने उन्हें गर्भपात कराने के लिए कहा क्योंकि उनके पास इतने  संसाधन नही थे की वो उसे जन्म देकर उसका अच्छे से पालन पोषण कर पाए।

सोचो अगर ऐसा हुआ होता तो रोनाल्डों आज हम सबके बीच नही होते। रोनाल्डों ने कभी किसी नशे की चीज़ को हाथ नही लगाया , न ही कभी दारु शराब का सेवन किया । रोनाल्डो अच्छी तरह जानते थे की उनके पिता की मृत्यु नशे की लत की वजह से हुई थी इसलिए उन्होंने खुद को नशे की लत से बचा कर रखा।

हालाकिं रोनाल्डो पर कई प्रकार के  टैक्स चोरी और हेरा फेरी के इल्जाम लगते रहे। अपने विवादस्पद संबंधो की वजह से भी वो सुर्खियों में रहे। जार्जिना रोड्रिग्स के साथ वो कई वर्षो तक अन्तरंग सम्बन्ध में रहे।

रोनाल्डों का नाम अनगिनत स्त्रिओं के साथ जुड़े, उनकी संतानों से भी मतभेद थे। 2 बार क्लब में मैच के दौरान शराब का सेवन करने की वजह से भी उन्हें बदनामी झेलनी पड़ी।

रोनाल्डो की अदभुत इच्छा शक्ति – Cristiano Ronaldo Biography in Hindi

 रोनाल्डों 6 फीट 1 इंच के है। एक रिपोर्ट के अनुसार उनके शरीर में केवल 10% चर्बी है। जबकि एक फैशन की मॉडल जो बहुत ही स्लिम और ट्रिम होती है उसमें भी 13.8% फैट( चर्बी) होती है।

इसी से आप अंदाजा लगा सकते है की अपने आप को फिट रखने के लिए वो कितनी मेहनत करते होंगे। वाशिंगटन पोस्ट में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार रोनाल्डो एक चीते की फुर्ती से भी अधिक उर्जा के साथ गुरूत्वाकर्षण के विरुद्ध 5 गुना जम्प लगा सकते है।

मैच के दौरान गोल करने के लिए भी वो इसी फुर्ती का इस्तेमाल करते है।रोनाल्डों ने अपने शरीर पर कोई टैटू नही बनवाया है ,वो साल में  कई बार रक्त दान करते है। यूरोपियन देशों में जिसके शरीर पर टैटू होता है उसे रक्तदान नही करने दिया जाता। यही वजह है की उन्होंने आज तक एक भी टैटू नही बनवाया।

रोनाल्डों का वैवाहिक जीवन – Cristiano Ronaldo Biography in Hindi

रोनाल्डो कई साल तक जोर्जीना रोड्रीगज के साथ अन्तरंग संबंधो में रहे परन्तु बाद में उन्होंने उनसे विवाह कर लिया। रोनाल्डो के 4 बच्चें है

  1. CRISTIANO RONALDO JR.
  2. MATEO RONALDO
  3. EVA MARIA
  4. ALANA MARTINA

रोनाल्डो का फुटबॉल करियर और उनकी उपलब्धियां

# रोनाल्डो का फुटबॉल में पर्दार्पण मात्र 16 वर्ष की उम्र में ही हो गया था। उन्हें मैनचेस्टर यूनाइटेड ने 14 मिलियन US डॉलर देकर बुक कर लिया था। ये राशि भारतीय रुपयों में करीब 105 करोड़ के करीब है। मात्र 16 वर्ष की उम्र में ही वो करोड़पति बन गए थे। 16 साल की उम्र में ही रोनाल्डों “स्पोर्टिंग सीपी” का हिस्सा बन गए थे, उनके खेल से खुश होकर उनके टीम मैनेजर ने उन्हें पद्दोनत कर दिया था।

# महज एक साल के अन्दर ही रोनाल्डो उसी टीम के अंडर 17, अंडर 18 में खेलने वाले पहले खिलाड़ी बन गए थे ,वो दुनिया के पहले ऐसे खिलाड़ी थे जिन्होंने एक साल में तीनों ग्रुप के मैच खेले।

# एक बार स्पोर्टिंग टीम और मैनचेस्टर यूनाइटेड के बीच मैच में चल रहा था ,उस मैच में स्पोर्टिंग टीम 3-1 से आगे चल रही थी ,3 गोल में से अकेले दो गोल रोनाल्डो के थे। ये मैच स्पोर्टिंग टीम ने जीत लिए था। इस मैच ने सबका ध्यान रोनाल्डो की तरफ खीचा। यही वो मैच था जिसके बाद मानचेस्टर यूनाइटेड ने उन्हें 105 करोड़ की भरी भरकम राशि देकर बुक किया था।

# 2003 में रोनाल्डो ने मैनचेस्टर के लिए खेलना शुरू किया। वहां उनसे इतनी मेहनत कराई गई की उनके खेल में बेहद निखार आया। साल 2004 में हुए FA CUP में रोनाल्डो ने मानचेस्टर को मैच जिताने में बहुत ही महतवपूर्ण भूमिका अदा की। अपनी टीम के लिए उन्होंने 3 गोल किए। साल 2006 तक वो अपने नाम 26 गोल कर चुके थे।

# मनचेस्टर ने इनके खेल को देखते हुए इनका कॉन्ट्रैक्ट बढ़ा दिया और इस बार इन्हें 31 मिलियन यूरो अदा किये। किसी भी खिलाड़ी को चुकाई गई ये सबसे बड़ी रकम थी। कॉन्ट्रैक्ट के बढ़ने के साथ ही रोनाल्डो ने 3 प्रेमियर लीग ट्रोफी को जितवाने में अपना योगदान दिया। उन्होंने कुल 42 गोल किये। ये उनकी अदभुत खेल क्षमता का प्रदर्शन था।

# 2006- 2008 का समय रोनाल्डो के लिए बहुत लकी साबित हुआ। मैनचेस्टर ने उन्हें जर्सी नंबर 7 दी ,जो रोनाल्डो की लकी जर्सी साबित हुई, आगे चलकर रोनाल्डों CR-7 के नाम से प्रसिद्ध हुए।

# साल 2009 में रोनाल्डो रियल मेड्रिड क्लब से जुड़ गए। रियल मेड्रिड स्पेन का फुटबॉल क्लब था। क्लब ने रोनाल्डो को 80 मिलियन यूरो में ख़रीदा, ये करीब 693 करोड़ रूपए थे। जिस रोनाल्डो के पास कभी जूते नही हुआ करते थे उन्होंने एक ही कॉन्ट्रैक्ट में 693 करोड़ रुपये कमा लिए, कहते है न की मेहनत बोलती है परन्तु ख़ामोशी से और सही वक्त पर।

रोनाल्डों द्वारा अर्जित अवार्ड और असाधारण उपलब्धियां

रोनाल्डो ने फुटबॉल जगत का ऐसा कोई अवार्ड नही होगा जो न जीता हो। बल्लों डी (फुटबॉल की दुनियां का सबसे बड़ा अवार्ड) उन्होंने 5 बार जीता। यूरोपियन गोल्डन शूज दो बार, फीफा प्लेयर ऑफ़ द इयर एक बार ,पिसिची ट्राफी 2 बार, PFA प्लेयर ऑफ़ द ईयर 2 बार, सर्वश्रेष्ठ अन्तराष्ट्रीय एथलिट पुरूस्कार एक बार, और ऐसे दर्जनों अवार्ड रोनाल्डों ने अपने नाम किया जिनकी लिस्ट बहुत लंबी है। उन्हें दुनिया के सबसे महंगे फुटबॉलर के साथ साथ दुनिया के सबसे महान खिलाड़ी का भी दर्जा मिला हुआ है। रोनाल्डो ने लगातार 5 लीग में 50 गोल किये जिसको दुनियाँ का कोई भी खिलाड़ी आज तक नही तोड़ पाया।

कुछ आश्चर्य जनक तथ्य जो रोनाल्डो को असाधारण खिलाडी बनाते है –

  • रोनाल्डो ने अब तक 654 गोल किये है ,किसी भी खिलाड़ी का वहां पहुँचाना लगभग असम्भव है।
  • रोनाल्डों के किक की रफ़्तार 130 किलोमीटर से ज्यादा होती है ,यानी एक सेकंड में 31 मीटर, ये नासा के किसी यान की गति से भी अधिक है।
  • रोनाल्डो एक अच्छे खिलाड़ी के साथ साथ एक नेकदिल इंसान भी है। उन्होंने 2012 में मिला गोल्डन बूट अवार्ड नीलाम कर दिया ताकि गाजा के बच्चो के लिए स्कूल बनवाया जा सके। गाजा एक युद्धग्रस्त क्षेत्र था जहाँ शिक्षा की बुनियादी ढांचा नही था। रोनाल्डो की बदौलत वहां स्कूल बन पाया। इतना ही नही इन्होने एक कैंसर पीड़ित बच्चे के इलाज का पुरा खर्च भी उठाया। वो लोगो की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते है।
  • रोनाल्डो का कुल नेट्वर्थ 330 मिलियन डॉलर का था जब वो मानचेस्टर के लिए खेल रहे थे, जिसमे से 52.6 मिलियन डॉलर उन्होंने सिर्फ फुटबॉल खेलने के वेतन के रूप में कमाए थे।
  • उनकी कमाई इतनी है की सुन कर अच्छे-अच्छों को पसीना आ जाए। वो हर महीने लगभग 38 करोड़ रुपये कमाते है। उनकी कुल नेट्वर्थ इस वक़्त 3500 करोड़ की है।
  • रोनाल्डो दुनियाँ के तीसरे सबसे प्रसिद्ध खिलाड़ी है , वो इन्स्ताग्राम के एक पोस्ट के बदले 7 करोड़ रुपये लेते है। ये वो तथ्य है जो रोनाल्डो को सबसे अलग पहचान देते है।

रोनाल्डो जब 15 साल के थे तब डॉक्टर ने कहा की उन्हे एक दिल की बिमारी है जिसमे हार्ट बीट बढ़ जाती है। ये उनके फुटबॉल करियर का अंत कर देगी परन्तु रोनाल्डो ने अपनी ज़िद के आगे डॉक्टर की बात को बौना साबित कर दिया।

अपनी जीवंत इच्छा शक्ति के दम पर रोनाल्डो आज फूटबाल की दुनियाँ के बेताज बादशाह है। एक कमरे से जीवन शुरू करने वाले रोनाल्डो के पास 11 से ज्यादा लक्ज़री गाड़ियाँ हैं ,पेंट हाउस, आलीशान घर ,फार्म हाउस, सबकुछ है।

आज वो करोड़ो युवाओं के दिल की धड़कन है। वो क्या करते है? क्या खाते है? ,कैसे पेश आते है ,ये उद्योग जगत के साथ साथ खेल जगत के लिए भी महतवपूर्ण विषय है। ऐसा तभी होता है जब आप अपनी क्षमताओं से भी ज्यादा मेहनत करते है, खुद को बनाने में, खुद को निखारने में और समाज को एक काबिल इंसान देने में।

ये था Cristiano Ronaldo Biography in Hindi। आशा करता हूँ आपको पढ़के अच्छा लगा होगा।

इन्हे भी पढ़ें: Best Motivational Stories In Hindi

अपनों के साथ जरूर साझा करें:

Share on facebook
Facebook
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram
Share on pinterest
Pinterest
Share on tumblr
Tumblr
Share on email
Email
Hindi DNA

Hindi DNA

हिन्दी डीएनए आपकी ज्ञान को बढ़ाने के लिए है।

All Posts

हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें

Scroll to Top

दोस्तों, हमने आपके लिए एक नया YouTube चैनल बनाया है।

Video जरूर देखें और Like, Comment, Subscribe करके हमारा हौसला जरुर बढ़ाएं!